Sad Shayari, Silsila ulfat ka

सिलसिला उल्फत का चलता ही रह गया,
दिल चाह में दिलबर के मचलता ही रह गया,
कुछ देर को जल के शमां खामोश हो गई,
परवाना मगर सदियों तक जलता ही रह गया..!!

Related Sms Jokes

  • Sad Shayari, Log mohabbat ko khuda ka Log mohabbat ko khuda ka naam dete hai, clinic Koi karta hai ilzaam […]
  • Sad Shayari, Ise trha mili इस तरह मिली वो मुझे सालों के बाद, जैसे हक़ीक़त मिली हो ख़यालों के […]
  • Sad Shayari, Mohabbat Ki Misal Main मौहब्बत की मिसाल में, बस इतना ही कहूँगा । बेमिसाल सज़ा है, किसी […]
  • Sad Shayari, Unke hontho pe Unke hontho pe mera naam jab aya hoga.. Khudko ruswayi se phir kaise […]
  • Sad Shayari, Ye bewafa ये बेवफा वफा की कीमत क्या जाने, है बेवफा गम-ऐ मोहब्बत क्या […]
  • Sad Love Shayari, Jis jisne bhi mohabbat mein जिस जिस ने मुहब्बत में, अपने महबूब को खुदा कर दिया, खुदा ने अपने […]
  • Sad Shayari, Meri Rooh mein मेरी रूह में न समाती तो भूल जाता तुम्हे, तुम इतना पास न आती तो भूल […]
  • Sad Shayari, Mohabbat mein scha मुहब्बत में सच्चा यार न मिला, दिल से चाहे हमें वो प्यार न […]
  • Sad Shayari, Na puchho halat न पूछो हालत मेरी रूसवाई के बाद, मंजिल खो गयी है मेरी, जुदाई के […]
  • Sad Shayari, Wo jiski yaad mein वो जिसकी याद मे हमने खर्च दी जिन्दगी अपनी। वो शख्श आज मुझको गरीब कह […]