Yaad Shayari, Wo nahi aati

वो नहीं आती पर निशानी भेज देती है,
ख्वाबो में दास्ताँ पुरानी भेज देती है,
कितने मीठे हे उसकी यादो के मंज़र,
कभी कभी आँखों में पानी भेज देती है!!